50+ Heartfelt sad shayari in Hindi | प्यार में दुखी शायरी

Breakup Sad Shayari in Hindi

मोहब्बत की तलाश मैं निकले हो तुम
 पागल‌.. मोहब्बत खुद तलाश करती है… 
जिसे बर्बाद करना हो।

आँसू आ जाते है रोने से पहले, 
ख्वाब टूट जाते है सोने से पहले। 
लोग कहते है मोहब्बत गुनाह है, 
काश कोई रोक लेते गुनाह होने से पहले।।

इश्क सभी को जीना सिखा देता है, 
वफा के नाम पर मरना सिखा देता है। 
इश्क नहीं किया तो करके देखो, 
जालिम हर दर्द सहना सिखा देता है।।

शिकायत नहीं ज़िंदगी से, की तेरे साथ नहीं, 
बस तू खुश रहना यार, अपनी तो कोई बात नहीं।।

Sad Shayari in Hindi

किसी ने धूल क्या झोंकी आखों में, 
पहले से बेहतर दिखने लगा है!

वो रोए तो बहुत पर मुझसे मुंह मोड़ कर रोए। 
कोई मजबूरी होगी जो दिल तोड़ कर रोए।। 
मेरे सामने कर दिए.. मेरी तस्वीर के टुकड़े। 
पता चला मेरे पीछे वो उन्हें जोड़ कर रोए।।

Sad shayari

टूटे हुए काँच की तरह चकनाचूर हो गए। 
किसी को कहीं लग ना जाएं, 
इसलिए सबसे दूर हो गए।।

दिल तो हमारा वो आज भी बहला देते हैं। 
बस फर्क सिर्फ इतना है....
पहले हंसा देते थे पर अब तो रुला देते है!

अबसे ना करेंगे तुमसे कोई सवाल। 
काफी हक़ जताने लगे थे तुमपर, माफ करना यार..

Emotional Sad Shayari 

बहुत मशरूफ हो शायद, 
जो हमको भूल बैठे हो, 
न ये पूछा कहाँ पे हो, 
न यह जाना कि कैसे हो।

बात वफ़ा की होती तो कभी ना हारते, 
बात नसीब की थी कुछ कर ना सके।

जो सबको संभालने की कोशिश करता हैं न,
उसको संभालना हर कोई भूल जाता हैं…

Kas koi mile es kadar,
ki wo juda na ho, Wo samjhe mere mijaz ko, 
aur kabhi khafa na ho, 
Sari tanhaiya bat le mere ehsaas se, 
Itna pyaar de jo kisi ne diya na ho ?

हमने सोचा था, बताएंगे दिल का दर्द तुझको। 
पर तुमने तो इतना भी न पूछा, खामोश क्यों हो तुम…

मोहब्बत का दर्द दिल में छुपाया बहुत है, 
सच कहुँ उसकी मोहब्बत ने रुलाया बहुत है।
 
Aarju ke diye dil mai jalte rahenge, 
aankho se aansu nikalte rhenge, 
aap sma banke jalte rahna, 
hum maum banke pighlate rhenge.

कुछ जख़्म सदियों के बाद भी ताज़ा रहते है, 
शायद वक़्त के पास भी हर मर्ज़ की दवा नहीं होती।।

आदत बना ली मैंने खुद को, तकलीफ देने की। 
ताकि जब कोई अपना तकलीफ दे, 
तो ज्यादा तकलीफ न हो…

बेपरवाह हो जाते है, 
अक्सर वो लोग जिन्हे कोई,,, 
हद से ज्यादा प्यार करने लगता है।

कुछ अजीब सा चल रहा है, 
ये वक्त का सफर। एक गहरी सी खामोशी है, 
खुद के ही अंदर।

वो दिन नहीं वो रात नहीं,
वो पहले जैसे जज्बात नहीं। 
होने को तो हो जाती हैं बात उनसे, 
मगर बातों में भी पहले जैसे बात नहीं…

माँगा था थोड़ा सा उजाला जिंदगी में, 
पर उन्होंने तो आग ही लगा दी।
एक उम्मीद मिली थी तुम्हारे आने से, 
अब वो भी टूट गयी। 
वफादारी की आदत थी जमाने से हमें, 
अब शायद वो भी छूट गई।

मैं चाहता हूँ कि, एक ऐसा हादसा हो मेरे साथ। 
जिसमें भूल जाऊ वो ज़िंदगी, जो गुज़ारी हैं तेरे साथ..
 
वो बिछड़ के हमसे ये दूरियां कर गई, 
न जाने क्यों ये मोहब्बत अधूरी कर गई। 
अब हमें तन्हाइयां चुभती है तो क्या हुआ, 
चलो उसकी सारी तमन्नाएं तो पूरी हो गई।

तेरे बदलने का दुःख नहीं हैं मुझकों, 
हम तो अपने यकीन पर शर्मिंदा हैं..

देखी है बेरुखी की आज हम ने इन्तेहाँ, 
हमपे नजर पड़ी तो वो महफ़िल से उठ गए।

चिंगारी का ख़ौफ़ न दिया करो हमे, 
हम अपने दिल में दरिया बहाय बैठे है। 
अरे हम तो कब का जल गये होते इस आग में, 
लेकिन हमतो खुद को आंसुओ में भिगोये बैठे हैं।।

Related Posts --
Cookie Consent
We serve cookies on this site to analyze traffic, remember your preferences, and optimize your experience.
Oops!
It seems there is something wrong with your internet connection. Please connect to the internet and start browsing again.
AdBlock Detected!
We have detected that you are using adblocking plugin in your browser.
The revenue we earn by the advertisements is used to manage this website, we request you to whitelist our website in your adblocking plugin.
Site is Blocked
Sorry! This site is not available in your country.