Best Life Quotes and shayari | जिन्दगी की हकीकत बताने वाले अल्फाज़

Best Life Quotes and shayari

भावुक व्यक्ति का अपने पर कोई काबू नहीं होता। 
वह पछाड़ खा कर गिरता है, 
तभी अपनी भूल को समझ पाता है।
Life Quotes

चाय और चरित्र गिर जाएं तो,
दाग बहुत गहरे देते हैं !!

लाख समझाया कि शक करती है दुनिया !
तू पास से गुज़र जाया कर, पर मुस्कुराया ना कर ! 
जैसे जैसे दुनियां समझ में आती है,
विश्वास शब्द खोखला लगने लगता है !
अगर अपनी काबिलियत पर यकीन किया जाए, 
तो उंगलियां उठाने वाले भी तालियां बजाना शुरू कर देते हैं।
इंसान की अच्छाई पर सब चुप रहते हैं,
लेकिन चर्चा उसकी बुराई पर हो तो गूंगे भी बोल उठते हैं।
बीते हुए कल को  याद करके, 
अपने आज के कल को बेहतर करें।
आओ वो काम करें, भुत के अनूभव से,
वर्तमान को अच्छा करें, कुछ अच्छा करें।।
पागल हो जाओ,
उस मंजिल के पीछे जिसका नाम पैसा हैं..!!
जीने की लत पड़ी नहीं शायद इसीलिए,
झूठी तसल्लियों पे गुज़ारा नहीं किया।
यह सच अगर नहीं तो बहुत झूठ भी नहीं,
तुझको भुला के कोई गुनाह नहीं किया !
जीने की लत पड़ी नहीं शायद इसीलिए,
झूठी तसल्लियों पे गुज़ारा नहीं किया।
मुख़्तसर सी ज़िंदगी के भी अजीब फ़साने हैं।
यहाँ तीर भी चलाने हैं, और परिंदे भी बचाने हैं !
कुछ लोगों को शौक़ था मुझे इग्नोर करने का,
मैंने भी उनका शौक़ उन्हें तोहफे में दे दिया।
तय है मिलेगा वक़्त से पहले न कुछ,
बस ख़्वाब ख़्वाबों में उतर के रह गये।
यदि आप दूसरों से ताकतवर हैं, 
तो आपको उनकी मदद करनी चाहिए।
विरासत में,
गद्दी मिल सकती है बुद्धि नहीं !
जमाना तुमको गौर से सुनेगा, 
तुम अपनी कहानी नहीं किस्से सुनने !
जिनके न आते थे कभी जवाब,
उनके सलाम आने लगे, 
वक्त क्या बदला, मेरे नीम के पेड़ पर आम आने लगे !
एक दूसरे से कुछ कहते नहीं, 
मगर हमनें ये महसूस जरूर किया है !
एक मुलाक़ात की दरकार तुम्हें भी है;
मुझे भी है।
झूठी हैं इश्क़ की किताबें, और शायर सभी,
किसी ने रोते हुए लड़को के बारे मे नहीं लिखा।
कर्मों से डरिए क्योंकि,
ईश्वर माफ कर देता है, कर्म नहीं।
खुल जाता है तेरी यादों का बाजार सुबह सुबह,
और हम उसी रौनक में पूरा दिन गुज़ार देते हैं।
मत खोल मेरी किस्मत की किताब को..
हर उस शख्स ने दिल दुखाया है, 
जिस पर हमें नाज़ था।
लोग अपनी परेशानियों से नहीं,
दूसरों की खुशियों से परेशान होते हैं।
एक वक्त के बाद, 
ज़िंदगी में किसी से कोई शिकायत नहीं रहती !
कपड़े सफ़ेद धो के जो पहने तो क्या हुआ, 
धोना हो तो दिल की सियाही को धोइए।
दिखाने से बेहतर छुपाकर रखो,
दर्द, गुस्सा, प्यार, रिश्ता और जज़्बात !!
उसे अब मेरे रोने से भी फर्क नहीं पड़ता,
कभी जो मेरे उदास रहने पर खुद उदास हो जाता था ।
बादलों का गुनाह नहीं कि वो बरस गए,
दिल को हल्का करने का हक़ सबको है !
गुलामी जंजीरों से आजाद होने की गैरत नही तुममें,
और बात करते हो गलत को गलत कहना सीखो।
हर मर्ज़ का इलाज नहीं है दवाखाने में
कुछ दर्द ऐसे ही चले जाते हैं मुस्कुराने में !!.
इस संसार में केवल वही रिश्ता सच्चा है,
जो पीठ पीछे भी आपको सम्मान दें।
बहुत सारा दुख बहुत सारा डिप्रेशन होने के बाद भी, 
 बेशर्म की तरह हंसने का घमंड है मुझ में।