Dosti Shayari | दिल छू लेने वाली दोस्ती शायरी

Heart Touching Dosti Shayari

दोस्ती कब किससे हो जाए अंदाजा नहीं होता,
दोस्ती ऐसा घर है जिसमें कोई दरवाजा नहीं होता।।

खुदा से कोई बात अनजान नहीं होती। 
हर किसी की नियत बेईमान नहीं होती।। 
कभी माँगा होगा आपने एक प्यारा सा दोस्त। 
यूँ ही आपकी हमसे पहचान नहीं होती।।

मजिलों से अपने कभी डर ना जाना,
रास्तों की परेशानियों से टूट ना जाना।
जब भी जरुरत हो जिंदगी में किसी अपने की,
एक दोस्त भी है तेरा, ये भूल न जाना ! 

Dosti shayari

आज के दौर में अब यार कहां मिलते हैं।
मिल भी जाएं तो वफादार कहां मिलते हैं।।
जान लुटाते हैं जो प्यार के खातिर।
किसी को ऐसे अब दिलदार कहॉं मिलते हैं।।

दोस्ती का रिश्ता पुराना नहीं होता, 
इससे बड़ा कोई खज़ाना नहीं होता।
दोस्ती तो प्यार से भी पवित्र है,
क्योंकि कोई इसमें पागल या दीवाना नहीं होता।।

तेरी मेरी दोस्ती इतनी खास हो, 
दुनिया कहे काश ऐसा दोस्त मेरे भी पास हो।

सच्ची है मेरी दोस्ती आजमा के देख लो,
करके यकीं मुझ पे मेरे पास आ के देख लो।
बदलता नहीं कभी सोना अपना रंग,
जितनी बार चाहे आग लगा कर देख लो !!

चाहें भाड़ में जाए ये दुनियाँ सारी,
मगर कभी न टूटे ये दोस्ती हमारी !

इश्क़ ने एक दिन दोस्ती से पूछा,
जब मैं यहां हूँ तो तेरा क्या काम हैं ? 
तो दोस्ती ने मुस्कुराते हुए कहा , 
जहाँ तू नाकाम हैं, वहां मेरा ही नाम हैं।

सच्चा दोस्त वही होता है जो हमे कभी गिरने न दे,
वो न कभी किसी की नजरों में गिरने दे,
और न कभी किसी के कदमो में गिरने दे !

भले ही मेरे दोस्त कम हैं, 
पर जो भी हैं, एटम बम हैं।

सच्चा दोस्त कभी पुराना नहीं होता,
कुछ दिन बात न करने से बेगाना नहीं होता।

दोस्ती मेरी बड़े लोगों के साथ ना सही,
पर साथ देने वालों के साथ जरूर है।

दिल छू लेने वाली दोस्ती शायरी

ना जाने सालों बाद कैसा समां होगा, 
हम सब दोस्तों में से कौन कहाँ होगा, 
फिर अगर मिलना होगा तो मिलेंगे ख्वाबों में, 
जैसे सूखे गुलाब मिलते है किताबो में।

दोस्त बिना जिंदगी वीरान होती हैं,
अकेले हर राह सुनसान होती है। 
जीवन में एक प्यारे से दोस्त का होना जरूरी है,
क्योंकि उसकी दुआ से ही हर मुशकिल आसान होती है।

रिश्तों से बड़ी चाहत और क्या होगी,
दोस्ती से बड़ी इबादत और क्या होगी,
जिसे दोस्त मिल सके कोई आप जैसा,
उसे जिंदगी से कोई और शिकायत क्या होगी !

दोस्ती यकीन पर टिकी होती है, 
यह दीवार बड़ी मुश्किल से खड़ी होती है। 
कभी फुर्सत मिले तो पढ़ना रिश्तों की किताब में, 
दोस्ती खून के रिश्तों से बड़ी होती है।।

बेशक थोड़ा "इंतजार" मिला हमको, 
पर दुनिया का सबसे हसीं "यार" मिला हमको, 
न रही "तमन्ना" अब किसी "जन्नत" की, 
तेरी दोस्ती में वो "प्यार" मिला हमको।

दोस्त तो बहुत है पर बिना कुछ बोले, 
जो हर बात समझ जाएं, 
वो सिर्फ तुम हो मेरे दोस्त!

हमारी दोस्ती हमेशा याद आएगी, 
हर पल चेहरे पर हंसी-मस्ती साथ लाएगी।
भूलना भी चाहोगे तो कैसे भुलाओगे, 
हमारी दोस्ती तो तुमको उम्र भर याद आएगी।

किनारो पे सागर के ख़ज़ाने नहीं आते, 
जीवन में दोस्त कभी पुराने नहीं आते, 
जी लो इन पलों को हंस के मेरे दोस्त, क्योंकि
 फिर लौट के दोस्ती के ज़माने नहीं आते।

दोस्ती नाम है सुख-दुख की कहानी का, 
दोस्ती राज़ है सदा मुस्कुराने का।
पल भर की नहीं है ये दोस्ती,  
दोस्ती तो यारा है उमर भर साथ निभाने का।।

आँखों की बेनूरी अच्छी नहीं होती, 
दोस्तो की दूरी अच्छी नहीं होती, 
कभी कभी मिल भी लिया करो मेरे यार, 
हर समय SMS से मस्ती पूरी नहीं होती।

कहते हैं दिल की हर बात,
किसी को बताई नहीं जाती।
 पर दोस्त तो आईने होते हैं, और 
आईने से कोई बात छुपाई नहीं जाती।

चाय में शक्कर न हो तो पीने में क्या मजा, 
और जिंदगी में दोस्त ना हो तो जीने में क्या मजा।

दोस्ती से कीमती कोई जागीर नहीं होती,
दोस्ती से खूबसूरत कोई तस्वीर नहीं होती,
दोस्ती तो वो धागा है. 
जिससे मजबूत कोई जंजीर नहीं होती !

दोस्ती वह डोर है जो अजनबियों को जोड़ देती है, 
हर पग पर ज़िन्दगी को एक नया मोड़ देती है, 
सच्चा दोस्त हमेशा तब भी साथ देता है, 
जब सारी दुनिया साथ छोड़ देती है !!

तुम्हारी दोस्ती मेरे सुरूर का साज है,
तूझ जैसे दोस्त पे मुझे नाज़ है। 
चाहे कुछ भी हो जाए पर. 
ये दोस्ती हमेशा वैसे ही रहेगी जैसे आज है ।

दोस्त साथ हो तो रोने में भी शान है। 
दोस्त ना हो तो महफिल भी श्मशान है।
सारा खेल सिर्फ दोस्ती का ही तो है, 
वरना जनाजा और बारात दोनों एक समान है।

आपकी दोस्ती ने हमें जीना सिखा दिया,
रोते हुए दिल को हँसना सिखा दिया।
कर्जदार रहेंगे हम उस खुदा के,
जिसने आप जैसे दोस्त से मिला दिया !

आज जिंदा हैं, कल गुज़र जायेंगे,
कौन जानता है, कब बिछड़ जायेंगें। 
नाराज़ ना होना हमारी शरारतों से ए दोस्त, 
ये वो पल हैं जो कल बहुत याद आएंगे।

जिंदगी की राहों में बहुत से यार मिलेंगे, 
हम क्या … हमसे भी अच्छे हजार मिलेंगे, 
इन अच्छेों की भीड़ में हमें ना भूल जाना।
 हम कहां आपको बार बार मिलेंगे।

तू दूर है मुझसे और पास भी है,
तेरी कमी का एहसास भी है।
दोस्त तो हमारे लाखों हैं इस जहां में,
पर तू प्यारा भी है और खास भी है!

कितना कुछ जानता होगा वो दोस्त मेरे बारे में, 
जो मेरी मुस्कराहट देखकर भी कहता है, 
चल बता उदास क्यों है !!

हम अपने पर गुरुर नहीं करते, 
याद करने के लिए किसी को मजबूर नहीं करते।
मगर जब एक बार किसी को दोस्त बना लें, 
तो उसे अपने दिल से कभी दूर नहीं करते।।