जानिए Dr. APJ Abdul Kalam के जीवन की खास बातें और उनके विचार

 डॉ. ए. पी. जे. अब्दुल कलाम:

डॉ. ए. पी. जे. अब्दुल कलाम (अवुल पाकिर जैनुलाब्दीन अब्दुल कलाम) एक प्रख्यात भारतीय वैज्ञानिक, शिक्षक, और पूर्व राष्ट्रपति थे। उनका जन्म 15 अक्टूबर, 1931 को तमिलनाडु के रामेश्वरम गांव में हुआ था। उन्हें "मिसाइल मैन" और "भारत के मिसाइल मानव" के रूप में भी जाना जाता है। डॉ. कलाम के माता-पिता संजीवरायुडु और अशियम्मा थे।

APJ Abdul Kalam

डॉ. कलाम ने अपने शिक्षा को तमिलनाडु के रामनाथपुरम में स्थित राष्ट्रीय विद्यालय से पूरा किया। इसके बाद उन्होंने एंड्रिया इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी (AIT) में प्रवेश लिया और इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग में बैचलर्स ऑफ टेक्नोलॉजी (बी.टेक) की उपाधि हासिल की। बाद में, वे विश्वविद्यालय के लिए आईएमएसी (इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट, बेंगलुरु) में भी पढ़ाई करने गए और वहां से व्यवस्थापकीय विज्ञान में मास्टर ऑफ बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन (एमबीए) की उपाधि प्राप्त की।

डॉ. कलाम की कैरियर भारतीय रक्षा अनुसंधान और विकास संगठन, डीआरडीओ (DRDO) में एक वैज्ञानिक के रूप में शुरू हुई। उन्होंने विभिन्न मिसाइल परियोजनाओं में काम किया और भारतीय मिसाइल विकास प्रोग्राम के लिए कई महत्वपूर्ण योगदान किए। उनके नेतृत्व में भारत ने अग्नि, प्रिथ्वी, अकाश, नाग, तृणमूल, निशान और धनुष जैसी कई सफल मिसाइलें विकसित कीं।

2002 में, डॉ. कलाम को भारत के 11वें राष्ट्रपति के रूप में चुना गया। उन्हें राष्ट्रपति पद के लिए एकमात्र उम्मीदवार के रूप में उम्मीदवारी करने वाले व्यक्ति बनाया गया था। उनकी प्रेरणादायक व्यक्तित्व और सरलता ने लोगों के दिलों में जगह बना लिया। वे एक आदर्श राष्ट्रपति के रूप में जाने जाते हैं, जिन्होंने भारत की तरक्की और विकास के लिए अपने योगदान के लिए बहुत सम्मान प्राप्त किया।

उनके राष्ट्रपति की कार्यकाल के दौरान, उन्होंने विभिन्न क्षेत्रों में शिक्षा, विज्ञान और तकनीकी विकास को प्रोत्साहित किया। उन्होंने युवाओं को प्रेरित करने के लिए बड़े प्रोजेक्ट्स जैसे "Vision 2020" और "पुराने भारत को नए भारत बनाने का सपना" शुरू किए।

डॉ. ए. पी. जे. अब्दुल कलाम की मृत्यु 27 जुलाई, 2015 को एक भाषण के दौरान हुई, जब वे शिक्षकों और छात्रों के साथ एक समारोह के दौरान गुजर रहे थे। उनकी मृत्यु नेशनल हेरो के रूप में स्मरण किया जाता है और उन्हें भारतीय इतिहास के महान व्यक्तियों में एक महत्वपूर्ण स्थान दिया जाता है। उनके अनमोल योगदान, दृढ़ संकल्प और लोगों में प्रेरणा की भावना आज भी जीवंत है।

डॉ. ए. पी. जे. अब्दुल कलाम के जीवन की खास बातें:

डॉ. ए. पी. जे. अब्दुल कलाम के जीवन की कुछ खास विशेषताएं थीं, जो उन्हें एक महान व्यक्तित्व बनाती हैं। उनके जीवन में निम्नलिखित कुछ खास पहलुओं ने उन्हें दुनिया भर में प्रसिद्ध किया:

1. वैज्ञानिक गुणवत्ता: डॉ. कलाम एक उत्कृष्ट वैज्ञानिक थे और उनके पास अद्भुत वैज्ञानिक गुणवत्ता थी। उन्होंने भारतीय मिसाइल विकास प्रोग्राम में महत्वपूर्ण योगदान दिया और भारत को मिसाइल तकनीक में आगे ले जाने में सक्रिय रूप से हिस्सा लिया।

2. प्रेरणा का स्रोत: डॉ. कलाम का व्यक्तित्व और उनके विचारों में सकारात्मकता और प्रेरणा का संचार था। उनके विचार, भावुकता और समर्थन लाखों लोगों को जीवन में आगे बढ़ने के लिए प्रेरित करते थे।

3. भारतीय रक्षा यात्रा में योगदान: उनका योगदान भारतीय रक्षा क्षेत्र में अविस्मरणीय रहा। उन्होंने भारतीय मिसाइल विकास प्रोग्राम के विकास में अच्छा काम किया और विशेष रूप से अग्नि, प्रिथ्वी, नाग और तृणमूल जैसी मिसाइलों के विकास में अहम योगदान दिया।

4. राष्ट्रपति पद का आदर्श: 2002 में, डॉ. कलाम को भारत के 11वें राष्ट्रपति के रूप में चुना गया। उन्हें एकमात्र उम्मीदवार के रूप में उम्मीदवारी करने वाले व्यक्ति बनाया गया था और वे विश्वस्तरीय राष्ट्रपति रहे। उनके पदकालीन कार्यकाल में, उन्होंने युवाओं को प्रेरित करने के लिए कई उद्देश्यों को तय किया और भारत के विकास के लिए उन्होंने सक्रिय योगदान दिया।

5. शिक्षक और प्रेरक: डॉ. कलाम एक अद्भुत शिक्षक थे जो अपने विद्यार्थियों के बीच से होकर गुजरते थे। उन्हें बच्चों के साथ वक्त बिताना और उन्हें प्रेरित करना बहुत पसंद था। उनके विचार और बोलचाल विद्यार्थियों को एक बेहतर भविष्य के लिए सकारात्मक मार्गदर्शन करने में मदद करते थे।

डॉ. ए. पी. जे. अब्दुल कलाम के जीवन में इन खास गुणों और योगदानों के कारण, उन्हें एक महान राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय व्यक्तित्व के रूप में स्मरण किया जाता है, जो भारतीय समाज में अमर रहेगा।

Quotes of Dr. APJ Abdul Kalam:

डॉ. ए. पी. जे. अब्दुल कलाम ने अपने जीवन में कई प्रेरक और अनमोल वचनों को कहा जो लोगों के दिलों में छाप छोड़ गए। उनके वचन लोगों को सकारात्मकता, समर्थन, और उत्साह के साथ जीवन के मुद्दों का सामना करने की प्रेरणा प्रदान करते हैं। यहां कुछ ऐसे अनमोल वचन हैं, जो डॉ. ए. पी. जे. अब्दुल कलाम द्वारा कहे गए थे:

1. "अगर आपके पास सपने नहीं हैं, तो आपको कुछ भी प्राप्त नहीं होगा।"

2. "सपने वह नहीं जो सोते वक्त आएं, सपने तो वही हैं जो हमें सोने नहीं देते।"

3. "विजयी व्यक्ति वो है, जो दूसरों को प्रेरित करता है।"

4. "शिक्षा एक आदर्शता बनाने का सबसे अच्छा माध्यम है।"

5. "एक अच्छे व्यक्तित्व का सबसे महत्वपूर्ण अंग, सहानुभूति और समझदारी है।"

6. "सपने देखने वालों को हमेशा ही कुछ न कुछ पाने का मौका मिलता है।"

7. "जीवन में सफलता का राज, सकारात्मक रहने में छिपा है।"

8. "समय का सबसे मूल्यवान उपहार है।"

9. "जब भी आपको उदासी के लिए मन चाहे, तो किसी बच्चे के पास जाएं।"

10. "कभी-कभी आपके सपनों को पूरा करने के लिए बस एक सामर्थ्यवान इरादा काफी होता है।"

यह वचन डॉ. ए. पी. जे. अब्दुल कलाम के मार्गदर्शन और सकारात्मक भावना से भरे हुए थे। उनके वचनों में दिखाई देने वाली सरलता, समझदारी, और शक्ति हर किसी को प्रेरित करती है और उनकी आत्मा को जीवंत रखती है।

Related Posts --
Cookie Consent
We serve cookies on this site to analyze traffic, remember your preferences, and optimize your experience.
Oops!
It seems there is something wrong with your internet connection. Please connect to the internet and start browsing again.
AdBlock Detected!
We have detected that you are using adblocking plugin in your browser.
The revenue we earn by the advertisements is used to manage this website, we request you to whitelist our website in your adblocking plugin.
Site is Blocked
Sorry! This site is not available in your country.